सात अचूक उपाय जो जीवन में हर लक्ष्‍य तक पहुंचायें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 03, 2014
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • लक्ष्‍य पर वैसे ही निगाह रखें जैसे अर्जुन ने मछली की आंख पर रखी थी।
  • लक्ष्‍य तक पहुंचने के मार्ग में आने वाली बाधाओं के बारे में आंकलन करें।
  • अपने लक्ष्‍य पर टिके रहें, ऐसा न हो कि जरा सी मुसीबत आते ही बदल जाएं।
  • व्‍यावाहारिक लक्ष्‍य बनायें, अपनी सीमाओं और क्षमताओं को जरूर आंकें।

कुछ हासिल करने के लिए मेहनत तो करनी ही पड़ती है। इसके बिना जीवन में कुछ भी हासिल कर पाना असंभव है। तो आइए जानते हैं 7 ऐसे कदम जो आपको अपने लक्ष्य को हासिल करने में मदद कर सकते हैं-

 

रहें स्पष्ट नहीं होगा कष्ट

खुश रहना कोई लक्ष्य नहीं है। बल्कि यह जानना जरूरी है कि आखिर किस चीज से आपको खुशी होती है। इस बारे में अपना नजरिया साफ रखें। किसी खास बिंदु पर अपनी नजर रखें। मान लीजिए, आप फिटनेस हासिल करना चाहते हैं।  लेकिन, आपको यह भी मालूम होना चाहिए कि आखिर आपकी नजर में फिटनेस का अर्थ क्या है। क्या पांच-सात किलो वजन कम करना आपके लिए काफी होगा या आप शारीरिक शक्ति बढ़ाना चाहते हैं या किसी खास ड्रेस में फिट आना आपका लक्ष्य है या फिर मैराथन के लिए फिट होना आपका लक्ष्य है। कहने का अर्थ यह है कि आपको अपनी खुशी के बारे में सटीक और पिन प्वांइट जानकारी होनी चाहिए।

इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि लक्ष्य और चाहत अकसर जीवन से बड़े हो जाते हैं। तो, बेहतर यही है कि आपके दिमाग में इसे लेकर तस्वीर पूरी तरह साफ हो। एक समय पर एक ही लक्ष्य पर अपना ध्यान और ऊर्जा केंद्रित करें और फिर उसी के हिसाब से अपनी योजनाएं तैयार करें।


goal


चरण तय करें

कुछ सीखने और जानने के लिए हर बार घर से बाहर निकलना जरूरी नहीं। इंटरनेट के इस दौर में काफी चीजें घर बैठे ही सीखी जा सकती हैं। कामयाब लोगों के बारे में पढ़ें और देखें उन्होंने अपने जीवन में कामयाबी कैसे पाई। ऐसे लोगों के बारे में जानकारी हासिल करना, जिन्होंने जीवन में वही हासिल किया है, जो आपका लक्ष्य है। इससे आपको चरणबद्ध कामयाबी हासिल करने में मदद मिलेगी। अच्छा रहेगा अगर आप उन प्वाइंट्स को लिख लें इससे आपको जीवन में अपना लक्ष्य हासिल करने में मदद मिलेगी।

 

है जुनून

यह बहुत जरूरी है। हम शुरुआत तो बहुत अच्छी करते हैं, लेकिन कुछ ही दिनों में यह जुनून कहीं खो जाता है। हम अपने लक्ष्य से भटक जाते हैं। हमें अपनी क्षमताओं पर ही संदेह होने लगता है। हमें नाकामयाबी का डर सताने लगता है। हमें नकारे जाने और अपना लक्ष्य हासिल न कर पाने का डर सताने लगता है। हम मेहनत के कड़े रास्ते के स्थान पर शॉर्ट कट तलाशने लगते हैं। इससे आपको कामयाबी हासिल नहीं होगी। कामयाबी के लिए जुनून होना बहुत जरूरी है। जब तक लक्ष्य हासिल न हो जाए, उसे छोड़ना सही नहीं है।


आपके सवाल हैं आपकी ताकत

अपने आप से यह सवाल जरूर पछें। पूछें कि आपके लिए आपके लक्ष्य की क्या कीमत है। क्या आप उसे हासिल किये बिना अपना जीवन पूर्ण मानते हैं। यह केवल आपके अहम को संतुष्ट करने का सवाल नहीं है, यहां बात कुछ और है। यहां मायने रखता है कि आपकी नजरों में आपके सपने कितने मायने रखते हैं और उन्हें हासिल करने के लिए आप कितनी मेहतन कर सकते हो। यह खुद से एक मुलाकात की तरह है। इन सवालों के जवाबों के बिना शायद लक्ष्य का आनंद अधूरा ही रह जाता है।

 

 

eye on the goal

 

देखें आपने क्या सीखा

नतीजे बहुत मायने रखते हैं, लेकिन इससे ज्यादा मायने रखती है वो सीख जो आपको इस पूरे सफर में मिलती है। लक्ष्य हासिल करने के दौरान आप विभ‍िन्‍न चरणों से गुजरते हैं और हर चरण आपको कुछ सिखाता है। अगर एक बार आप नाकामयाब भी हो जाएं, तो उन सीखों को कभी न छोड़ें। ये सीख जीवन भर काम आएंगी। नकारात्मक विचारों से दूर रहें। संभव हैं कि कई बार परिणाम आपके पक्ष में न आएं, लेकिन इस सफर में आपने जो सीखा है, वह हमेशा आपके साथ रहेगा।

दृढ़ रहे

अपने हक पर कायम रहें। अपने हिस्‍से की कामयाबी और उसका श्रेय किसी दूसरे व्‍यक्ति को न लेने दें। यह आपका है और आपको पूरी कोशिश करनी चाहिए कि आपसे आपका हक कोई न छीन पाये। आपको उसे हासिल करने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा देनी चाहिए। हो सकता है यह इतना आसान न हो, लेकिन इस दुनिया में आसानी से कुछ नहीं मिलता। उदाहरण के लिए यदि आप अपने स्‍वभाव में किसी प्रकार का सकारात्‍मक बदलाव करना चाहते हैं, तो आप अकेले के लिए यह कर पाना मुश्किल होगा। इस पर टिके रहने के लिए आपको कई प्रकार के समझौते करने पड़ सकते हैँ। विचारों का द्वंद्व आपकी नींद उड़ा कसता है। आपको अपने अहम से समझौता करना पड़ सकता है, इसके साथ ही आपका अपना दिल माफ करने लायक बड़ा बनाना होगा। यह अपने आप से की जाने वाली एक लंबी लड़ाई है, जिसे आपको रोजाना लड़ना होगा।


जो है आपका है

यह पूरी शिक्षा का अर्क है। जानें जो आपने सीखा है वह आपका है। आपसे वह कोई नहीं छीन सकता। भले ही आपका लक्ष्‍य न हो, लेकिन कई बार यह आपके लक्ष्‍य से भी अधिक अहम हो सकता है। आपका यह अनुभव जीवन में बेहतर इनसान बनने में मदद करेगा। यह अनुभव और उससे प्राप्‍त सीख जीवन में सबसे अधिक मायने रखती है।

लक्ष्‍य हासिल करने का सफर वास्तव में अपनी क्षमताओं और सीमाओं का आंकलन करना है। उन्‍हें बढ़ाना है। यह अपने भीतर यात्रा करने का मौका देता है। यह दोषारोपण, शिकायत और गिला-शिकवा नहीं है। नाकामयाबी का कोई बहाना नहीं होता। लक्ष्‍य तो जीवन चक्र के साथ चलते रहने का नाम है। अनवरत यात्रा का दूसरा नाम...

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES116 Votes 5129 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर