हार्ट मर्मर की सम्भावित अवधि

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 10, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

जब ज्वर, बेचैनी या श्रम के कारण इनोसेंट मर्मर हो, तो स्थिति में सुधार होते ही यह ठीक हो जाता है। इनोसेंट मर्मर बार-बार होने की समस्या वाले स्वस्थ बच्चों में उम्र बढ़ने पर मर्मर की ध्वनि धीमी होती जाती है या पूरी तरह ठीक हो सकती है।

heart murmur ki sambhvit avdhiजब मर्मर हृदय रोगों के कारण हो, तो यह कब तक रहेगा, यह इसके कारण पर निर्भर करती है। उदाहरण के लिए, कई प्रकार के एंडोकार्डिटिस अचानक शुरू होते हैं और कुछ ही दिनों में गंभीर हो जाते हैं, जबकि कुछ अन्य प्रकार के एंडोकार्डिटिस में कई सप्ताह या महीनों में कुछ हल्के लक्षण प्रकट होते हैं। वॉल्व की समस्या के कारण या हृदय में जन्मजात विकृति के कारण उत्पन्न मर्मर प्राय़ः जीवन भर बना रहता है और कुछ मामलों में समय के साथ स्थिति की गंभीरता बढ़ती जाती है।

उदाहरण के लिए यदि किसी मनुष्य को जन्मजात हृदय दोष (जन्म से होने वाली समस्या) है, तो मर्मर उम्र भर रह सकता है।

हार्ट मर्मर तब होता है जब दिल से तेज रक्त बहता है, यह किसी मनुष्य को तब हो सकता है जब वह गुस्से मे हो, या फिर उसने तभी व्यायाम किया हो। यह तब भी हो सकता है जब कि व्यक्ति को तेज बुखार हो या गंभीर एनीमिया हो। लगभग 10 प्रतिशत वयस्कों और 30 प्रतिशत बच्चों को इनोसेंट मर्मर होता है।

इनोसेंट हार्ट मर्मर समय के साथ कम होते जाते हैं और कुछ मामलों में पूरी तरह गायब भी हो सकता है। कुछ गंभीर मामलों मे मर्मर समय के साथ काफी खराब हो सकता है।  

कुछ विशेष हार्ट मर्मरों में डॉक्टर सर्जरी भी कर सकते हैं। हार्ट मर्मर की सर्जरी में रागी के ह्रदय में एक छेद किया जाता है या फिर वॉल्व में समस्या है तो उसे भी ठीक किया जाता है। अगर वॉल्व बदलने की जरूरत होती है तो उसे बदला भी जाता है।

ज्यादातर मामलों में दिल की कोई विशेष समस्या खास तौर के मर्मर का कारण बनती है, डॉक्टर आपके स्वास्थ्य संबंधी इतिहास, लक्षणों और मर्मर की विशिष्ट ध्वनि, समय (हृदय पंप करते समय मर्मर करता है या रेस्ट करते समय) को देखते हुए निदान करता है।

Write a Review
Is it Helpful Article?YES2 Votes 10892 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर