स्‍वास्‍थ्‍य बीमा योजना के लिए क्‍लेम कैसे करें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 02, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

एक स्वास्थ्य बीमा योजना लेना और उसके लिए प्रीमियम देने से ही आपका काम खत्म नहीं हो जाता। अपने लाभ और दूसरे फायदों के लिए दावा करना आपके लिए समस्या भी खड़ी कर सकता है। बीमा के लिए दावा करने के लिए आपको कुछ खास बातों का ख्याल रखना होता है :

1-  दावेदार द्वारा दावा करने वाला फार्म ठीक प्रकार से भरा जाना चाहिए। यही भी बात ध्यान रखने के लिए ज़रूरी है कि आपका हस्ताक्षर ठीक प्रकार से हुआ हो।

2-अस्पताल से अपने सर्टिफिकेट निकलवा लें। अस्पताल छोड़ने से पहले चिकित्सक से बात करके सभी रिपोर्टों को संभाल को रख लें।

3- उचित नुस्खे, दवा और रसीद लेने के बाद ही अस्पताल छोड़ें ।

4- किस प्रकार का आपरेशन हुआ है और कैसी चिकित्सा हो रही है इसके लिए चिकित्सक द्वारा सर्टिफिकेट दिखाना ज़रूरी होता है। इसके साथ ही व्यक्ति को अपना बिल, रसीद और बीमारी के पहचान के कागज़ भी दिखाये जाने चाहिए।

5-दुर्घटना के अलावा किसी भी स्थिति में पुरानी बीमारी का भी दिखाया जाना ज़रूरी है।

 

अस्पताल की योजना

 

अस्पताल की योजना के लिए व्यक्ति को तीसरी पार्टी के प्रशासक से सम्पर्क करना चाहिए। पॉलिसी की कवरेज टर्म को जानना भी आवश्यक है और ध्यान रखें कि वो अस्पताल जहां कि आप चिकित्सा करा रहे हैं उसका सम्पर्क बीमा कंपनी से हो। अगर स्वास्थ्य-सुविधा या अस्पताल जहां आप चिकित्सा करा रहे हैं वो बीमा कंपनी के सम्पर्क में नहीं हो तो आपके लिए कवर पाना मुश्किल होता है। अगर आपकी बीमा कंपनी आपको नकदी नहीं देती है तो ऐसे टी पी ए से सम्पर्क करना और दावा करने की प्रक्रिया जानना ज़रूरी हो जाता है।

 

अनियोजित अस्पताल में भर्ती होना


यह जरूरी है कि आप टी पी ए को जल्दी ही अपडेट करें जिससे कि आप दावे का फार्म पा सकें और दावे के समय उसे समझ सकें। ध्यान रखें कि आपका पूरा क्लेम और सम्बन्धित कागज़ात चिकित्सा  के 7 दिन के अंदर तैयार हो जाएं।
चिकित्सा पूरी होने के बाद व्यक्ति को सभी आवश्यक कागज़ात इकठ्ठे करने चाहिए। यह अस्पताल या चिकित्स्क से प्राप्त किये जा सकते है। चिकित्सा पूरी होने के बाद व्यक्ति को सभी बिल के कागज़ात रखने चाहिए। यह कागज़ात आप चिकित्सा, सर्जन या नर्स से प्राप्त कर सकते हैं। व्यक्ति को अपनी पॉलिसी को प्री-हास्पिटलाइज़ेशन और पोस्ट हास्पिटलाइजे़शन के खर्च से मिला लेना चाहिए।
अगर आपके बीमा की योजना में वो बीमारी नहीं कवर है जो आपको हुई है तो ऐसा भी हो सकता है कि कुछ स्थितियों में आपके दावे को "ना" माना जाये। लेकिन अगर आपके दावे को नहीं माना जा रहा है तो आप ध्यान रखें कि आप अपनी बीमा कंपनी में 15 दिन के अंदर शिकायत दर्ज करें। आंशिक भुगतान के लिए आपको अपने टी पी ए से सम्पर्क करना चाहिए। लेकिन अधिकतर स्थितियों में कुछ अतिरिक्त कागज़ात दावे को बचाने में मदद करते हैं।

Write a Review
Is it Helpful Article?YES10671 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर