स्‍तन कैंसर का निदान

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 08, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

breast cancer ka nidaan

स्‍तन कैंसर से निदान के लिए डॉक्टर, स्तन कैंसर का खतरा बढ़ाने वाले कारणों की जानकारी लेगा विशेषकर इस बीमारी के पारिवारिक इतिहास के बारे में।

डॉक्टर लक्षणों की खोजबीन कर सकते हैं। इस लक्षणों में शामिल हैं।

 

[इसे भी पढ़ें : स्‍तन कैंसर के लक्षण]

  • स्तन पर उभार या मोटापन।
  • निप्पल का उलटना या रिसना।
  • सूजन या स्तन की गोलाई में बदलाव।
  • स्तन की त्वचा पर लालिमा या गड्ढे होना।
  • बगलों में लिम्फा नोड बढ़ जाना।

यदि आपकी शारीरि‍क जांच के दौरान डॉक्टर कोई उभार खोजते हैं या आपके स्क्रीनिंग मैमोग्राम में असामान्य स्तन टिश्यून का कोई हिस्सा नजर आता है तो आपके डॉक्टर स्तन कैंसर के लिए जांच कराने को कहेंगे।

 

[इसे भी पढ़ें : स्‍तन कैंसर से चिकित्सा]

 

कुछ मामलों में यह पुष्टि करने के लिए अल्ट्रासाउंड किया जाता कि उभार ठोस ट्यूमर है या इसमें तरल भरा है जो कि कैंसर रहित रसौली है। यदि उभार ठोस है तो संभवत: आपके डॉक्टर आपको स्तन बॉयोप्सी कराने की राय देंगे जिसमें प्रयोगशाला परीक्षण के लिए स्तन टिश्यू लिए जाएंगे।

कई बार आपके डॉक्टर अल्ट्रासाउंड से पहले बॉयोप्सी परीक्षण की सिफारिश कर सकते हैं। आजकल अनेक प्रकार की स्तन बॉयोप्सी उपलब्ध हैं। जैसे-

  • फाइन-नीडिल बॉयोप्सी
  • कोर बॉयोप्सी
  • स्टीरियोटैक्टिक नीडल बॉयोप्सी
  • सर्जिकल बॉयोप्सी

इन सबमें स्तन के उभार को पूरा या इसका थोड़ा हिस्सा निकाल लिया जाता है।

 

[इसे भी पढ़ें : स्तन कैंसर के जोखिम कारक]

 

बॉयोप्सी से पुष्टि होती है कि आपमें स्तन कैंसर है या नहीं। बॉयोप्सी के खास प्रकार और नजदीकी लिम्फ‍ नोड्स को भी यदि बॉयोप्सी में शामिल किया जाता है तो बॉयोप्सी की रिपोर्ट कैंसर के फैलाव की सही सीमा को स्पष्ट कर सकती है और यह भी पता चल सकता है कि ट्यूमर कोशिकाऐं एस्ट्रोजन रिसेप्ट पॉज़िटिव हैं या नेगेटिव। आगे किए जाने वाले उपचार में इन जानकारियों से काफी सहायता मिल सकती है।

 

 


Read More Article on Breast Cancer in hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES17 Votes 14850 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर