स्वस्थ रिश्ते के लक्षण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 02, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

संबंधों में सफल होना और रिश्तों का स्वस्थ होना बहुत जरूरी है तभी रिश्ते दीर्घकालीन समय तक चलते हैं। हर कोई अपनी-अपनी समझ से रिश्तों को स्वस्थ और सफल बनाने के लिए अपनी तमाम कोशिशें करता है लेकिन फिर भी कुछ न कुछ कमी रह ही जाती है। एक मजबूत रिश्ता बनाने के लिए रिश्तों को समझने की जरूरत होती है। एक परिपक्व रिश्ते की निशानी है कि पति-पत्नी दोनों एक-दूसरे की भावनाओं को समझते हुए सूझबूझ से अपना काम करते हैं। आइए जानें स्वस्थ रिश्ते के लक्षणों के बारे में।  

 

  • दो व्यक्तियों के बीच की आपसी समझ ही स्वस्थ रिश्तें का सबसे बड़ा लक्षण है। यदि पति-पत्नी आपस में कोई बात भी करना चाहते हैं लेकिन लोगों के सामने नहीं कर पा रहे और इशारों में एक-दूसरे को अपनी बात समझा रहे हैं तो इससे बड़ा स्वस्थ‍ रिश्ते का उदाहरण कोई नहीं हो सकता।
  • परिपक्व रिश्ते में आप दोनों व्यक्तियों को हमेशा खुश और तनावमुक्त पाएंगे।
  • दोनों न सिर्फ एक-दूसरे के काम में हाथ बंटाते दिखेंगे बल्कि एक-दूसरे के काम के तनाव को समझते हुए उसका सम्मान भी करेंगे।
  • ऐसे पति-पत्नी या कपल्स जो एक-दूसरे पर अपनी बातें थोपते हुए नहीं दिखाई देंगे बल्कि समझदारी से अपनी चीजों का साझा करते दिखेंगे।
  • एक मजबूत रिश्ते में आप पाएंगे कि कपल्स एक दूसरे पर निर्भर नहीं है लेकिन जरूरत पड़ने पर दोनों हर सुख-दुख में एक दूसरे का साथ देते हैं ।
  • स्वस्थ रिश्तों में मनमुटाव कम ही दिखाई देता है क्योंकि दोनों ही सभी फैसले एक-दूसरे के साथ मिलकर लेते हैं और हर समस्या का हल भी साथ मिलकर निकालते दिखाई देते हैं ।
  • ऐसे जोड़ों की आपसी सहभागिता और प्रभारी संचार देखकर ही आप अंदाजा लगा सकते हैं कि दोनों आपस में एक-दूसरे से कितना जुड़े हुए हैं।
  • स्वस्थ संबंध में पति-पत्नी दोनों न सिर्फ एक-दूसरे के साथ समय बिताते है बल्कि एक-दूसरे की बातों में खूब रूचि भी लेते हैं और हंसी-मजाक करके एक-दूसरे का खूब मनोरंजन भी करते हैं।
  • चाहे घर के काम हों या घूमने जाने की बात हो, ऐसे कपल्स एक-दूसरे के साथ बाहर अन्य चीजों में भी खुशी-खुशी भागीदारी करते हैं। 
  • स्‍वस्‍थ संबंधों में रहने वाले कपल्स एक-दूसरे के प्रति अपनी जिम्मेदारियां समझते हुए एक-दूसरे के प्रति लचीलापन भी दिखाते हैं ऐसा नहीं कि किसी एक से गलती होने पर सर घर पर चढ़ा लें।
  • संबंधों में परिपक्वकता उस समय दिखाई पड़ती है जब एक का मूड खराब है तो दूसरा उससे अच्छा करने के हर संभव प्रयास करें।
  • स्वस्थ संबंधों में रहने वाले कपल्स दोनों एक-दूसरे पर इतना अधिक विश्वास करते है कि वो दूसरों के बहकावे में कभी नहीं आते।

 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES7 Votes 42235 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर