सेक्सुअलिटी का परिचय

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 23, 2012
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

अनेक अर्थों के साथ सैक्सुअलिटी एक जटिल शब्द है। यह किसी व्यक्ति की सैक्सुअल रूचियों, पसंदों से सम्बन्धित हो सकता है या 'आत्म' से जुड़ा भी हो सकता है। सैक्सुअल रूचियों के संदर्भ में सैक्सुअलिटी को विभिन्न उत्तेजनाओं के प्रति व्यक्ति की विभिन्नि प्रतिक्रियाओं के रूप में समझा जा सकता है। कोई भी चीज, जो किसी व्यक्ति को सैक्सुअली आकर्षित करती हो, जरूरी नहीं कि उसी तरह वह हर किसी को आकर्षित कर सके। इसका सम्बन्ध अनेक अहसासों और इच्छाओं से है जो व्यक्ति को सेक्सुअली प्रभावित करते हैं।

 

किसी व्यक्ति का सेक्सुअल झुकाव

सेक्सुअलिटी का सम्बन्ध किसी व्यक्ति के सेक्सुअल झुकाव से भी हो सकता है; वह व्यक्ति चाहे पुरूष हो या स्त्री, स्ट्रेट, बाई-सैक्सुअल हो या होमोसैक्सुअल  भी हो सकता है। किसी व्यक्ति की सेक्‍सुअलिटी या सेक्सुअल झुकाव, इससे जुड़ी गतिविधियों के सम्बन्ध में रहस्य बना रहता है। 'आत्म ' के सम्बन्ध में सेक्सुअलिटी का अर्थ यह है कि सेक्सुअल प्राणी के रूप में व्यक्ति खुद के बारे में कैसा नज़रिया रखता है। जो लोग सेक्सुअलिटी को अपने शरीर से जोड़कर देखते हैं उनके लिए उनकी शारीरिक छवि (बॉडी इमेज) महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। सेक्सुअलिटी को समाज द्वारा पूर्वाग्रहों के कारण उपेक्षित किया जा सकता है क्योंकि इसके विभिन्न  पहलू, "असामान्य " और छिपाने लायक समझे जाते हैं। लेकिन सेक्सुअलिटी बिलकुल प्राकृतिक और स्वाभाविक है जिसे कुछ समय के लिए केवल दबाया जा सकता है और बाद में यह फिर हावी हो जाती है।

 

Read more Articles on Sex and Relationship in Hindi.

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES40 Votes 50022 Views 3 Comments
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर