राल्फिंग

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 24, 2009
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

रोल्फिंग , बोडीवर्क   का एक फार्म है जो पैर, कमर एवं रीढ़ की हड्डियों इत्यादि को  उचित संरेखण में रखकर आपके स्वास्थ्य में सुधार लता है। रोल्फिंग  का मानना है लम्बी अवधी तक गलत मुद्रा में रहने से या मानसिक या भावनात्मक चिंता एवं तनाव से  प्रावरणी परत, जो मांशपेशियों को ढकते हैं वे कठोर एवं छोटे हो जाते हैं तथा उसका लचीलापन जाने लगता है। रोल्फिंग  का चिकित्सक अपनी कोहनी, उंगली  का उपयोग करके रोगी की  प्रावरणी में खिंचाव लाता है ताकि कंधे,  पेट, श्रोणि, कमर, और पैर इत्यादि सही अवस्था में आ जायें। यह श्वशन तंत्र, पाचन तंत्र एवं तंत्रिका तंत्र में काफी सुधार लाता है तथा रोगग्रस्त व्यक्ति  की शारीरिक और भावनात्मक स्वास्थ्य में सुधार लाता है।

जिन अवस्थाओं को रोल्फिंग  द्वारा इलाज किया जा सकता है वे निम्न प्रकार के हैं;

  • गलत मुद्रा
  • स्नायु में तनाव और दर्द, खासकर गर्दन का दर्द, कन्धों का दर्द एवं पीठ/कमर दर्द इत्यादि।

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1 Vote 11041 Views 0 Comment