बालों में शैम्‍पू करना

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 20, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

वर्तमान में प्रदूषण और खान-पान के कारण बालों की समस्‍यायें बढ़ गई हैं। खाने में पोषण की कमी और प्रदूषण बालों की बढ़ती समस्‍योंओं के लिए सबसे ज्‍यादा जिम्‍मेदार हैं।

  • अपने बालों की गुणवत्ता और स्थिति की जांच करें।
  • ऐसा एक प्रोडक्ट चुनें जिसे खासतौर से आपके बालों के लिए बनाया गया हो।
  • पर्याप्त समय तक इसे इस्तेमाल करने के बाद ही अपने ब्रांड को बदलने की सोचें।
  • डर्मेटोलॉजिस्ट्स के अनुसार, कुछ महीनों के बाद अपना ब्रांड बदलने से बाल स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।

 

बालों की देखभाल न की जाये तो बाल बेजान होकर समय से पहले झड़ना शुरू हो जाते हैं। वर्तमान में प्रदूषण और खान-पान के कारण बालों की समस्‍यायें बढ़ गई हैं। खाने में पोषण की कमी और प्रदूषण बालों की बढ़ती समस्‍योंओं के लिए सबसे ज्‍यादा जिम्‍मेदार हैं।

शैंपू करती महिला ऐसे में जरूरत होती है बालों को कृत्रृम तरीके से पोषित करने की। इसके लिए बाजार में कई प्रकार के उत्‍पाद मौजूद हैं, जिनका प्रयोग करने से बालों की खोई चमक और नमी वापिस आती है साथ ही बालों की समस्‍यायें भी दूर होती हैं। बालों की समस्‍याओं को दूर करने के सबसे अच्‍छे विकल्‍प के रूप में शैंपू भी है। आइए हम आपको बताते हैं कि किस तरह से शैंपू का प्रयोग करके बालों की समस्‍याओं को दूर किया जा सकता है।

 

शैम्पू के विकल्प

ओवर दि काउंटर बिकने वाले ढेरों हेयर केयर प्रोडक्ट्स की उपलब्धता के साथ हमारी पसंद भी व्यापक और भारी-भरकम हो जाती है। लेकिन ऐसा होना हमेशा नुकसानदायक साबित होता है। आपके नजदीकी जनरल स्टोर में जहां  ढेरों हेयर केयर प्रोडक्ट सजे रहते हैं वहां आप कैसे जान सकते हैं कि आपके लिए क्या बेहतर होगा। इसका उत्तर आसान है और इसके लिए कोई बहुत अलौकिक तरीके की भी ज़रूरत नहीं है। विशेषज्ञों की राय है कि बदलाव चाहे महंगे हेयर केयर प्रोडक्ट्स के रूप में हों यह ज़रूरी नहीं कि ये बेहतर ही साबित हों।

 

शैम्पू की जांच

  • अपने बालों की गुणवत्ता और स्थिति की जांच करें।
  • ऐसा एक प्रोडक्ट चुनें जिसे खासतौर से आपके बालों के लिए बनाया गया हो।
  • पर्याप्त समय तक इसे इस्तेमाल करने के बाद ही अपने ब्रांड को बदलने की सोचें।
  • डर्मेटोलॉजिस्ट्स के अनुसार, कुछ महीनों के बाद अपना ब्रांड बदलने से बाल स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।

 

इनको शैम्पू से चमकाएं

  • शैम्पू डिटर्जेन्ट्स से बने होते हैं जो बालों को प्राकृतिक तेल, गंदगी और अशुद्धियों जैसे कि प्रदूषण, सड़क की धूल और धुआं आदि से छुटकारा दिलातें है।
  • शैम्पू खरीदते समय यह जरूर जांच लीजिए कि जो उत्‍पाद आप खरीदने जा रहे हैं वह आपके बालों के लिए फायदेमंद साबित होंगे या नही। यदि आपके बाल दोमुहें हैं तो उसके अनुसार ही अपना शैंपू चुनें। कम बजट वाले शैंपू आपके बालों के लिए नुकसानदेह हो सकते हैं।
  • जिन शैम्पू में डिटर्जेन्ट अधिक मात्रा में होता है वे अस्थायी चमक प्रदर्शित करते हैं। इनके कुछ तत्व अक्सर अपना असर दिखाते हैं जिससे आपके बाल बेजान और रूखे हो जाते हैं।
  • हेयरब्रश खरीदते समय भी ध्‍यान देना बहुत जरूरी होता है। आपका हेयरब्रश प्राकृतिक रेशों से बना हुआ होना चाहिए। डर्मेटोलॉजिस्ट हमेशा सलाह देते हैं कि ब्रश को हमेशा बालों पर अंदर की ओर से बाहर की ओर इस्ते‍माल करना चाहिए, न कि ऊपर से नीचे की ओर।

 

 

Read More Articles on Hair Care In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES7 Votes 16964 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर