फेफड़े का एडेनोकार्सिनोमा के लक्षण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 12, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

एडेनोकार्सिनोमा फेफड़े के कैंसर का अत्यंत सामान्य रूप है। यह कैंसर ज्यादातर धूम्रपान करने वाले लोगों में पाया जाता है। फेफड़ों का एडेनोकार्सिनोमा काफी बड़ी संख्या में वयस्कों को प्रभावित करता है।


adenocarcinoma of the lung ke lakshanफेफड़ों के एडेनोकार्सिनोमा को शीघ्र पहचानकर उसका उचित इलाज करवाना चाहिए क्योंकि देर करने पर वह मरीज के दूसरे अंगों तक फैलने लगता है जैसे लीवर, अधिवृक्क ग्रंथियां, हड्डियां, और ब्रेन।

 

इसकी पहचान हम इसके लक्षणों से ही लगा सकते हैं, इसलिए हमें इसके लक्षणों के बारे में पता होना चाहिए। वैसे तो फेफड़ों के एडेनोकार्सिनोमा के लक्षण फेफड़े के कैंसर के अन्य रूपों के लक्षणों के अनुरूप होते है, फिर भी इसमें शामिल लक्षणों के बारे में हम आपको बताते हैं। आइए जानें- 


फेफड़े का एडेनोकार्सिनोमा के लक्षण


खांसते वक्त खून का निकलना

अगर किसी व्यक्ति को खांसते वक्त खांसी के साथ खून निकलता है तो उस व्यक्ति के लिए यह चिंता का विषय हो सकता है क्योंकि कई मामलों में ये फेफड़ों का एडेनोकार्सिनोमा के लक्षण हैं।


सांस लेने में असुविधा

फेफड़ों में जब ट्यूमर फैल जाते हैं तब सांस लेने में तकलीफ होने लगती है और घुटन होने लगती है। घुटन जैसा महसूस होना फेफड़ों का एडेनोकार्सिनोमा होने का लक्षण हो सकता है। 


सीने में दर्द 

सीने में दर्द होने की शिकायत कई बार फेफड़ों के कैसर के शिकार व्यक्ति में कैंसर के लक्षण के रूप में देखी गई है। इस प्रकार का दर्द काफी देर या दिनों तक रहता है एवं पीड़ादायक रहता है।


गले में घरघराहट या गला बैठना

गले में अक्सर खराश रहना, घरघराहट या गला बैठना भी कैंसर होने के संकेत देते हैं। हालांकि ये लक्षण तब भी हो सकते हैं जब आपके फेफड़ों में किसी प्रकार की सूजन हो।


श्वशन प्रणाली

अगर आपकी श्वशन प्रणाली में अक्सर संक्रमण रहता हो जैसे ब्रोंकाइटिस या न्यूमोनिया का होना तो ये भी फेफड़ों का एडेनोकार्सिनोमा होने का संकेत देते हैं।


अन्‍य लक्षण


  • रक्त वाहिकाओं पर ट्यूमर के दबाव के असर से चेहरे और गर्दन की सूजन, नसों में दर्द या उस तरफ हाथ में कमजोरी का कारण हो सकता है।
  • फेफड़ों का एडेनोकार्सिनोमा जैसे-जैसे बढ़ता है उसके साथ वजन में कमी, थकान, भूख में कमी लक्षण भी दिखने लगते हैं। 
  • फेफड़ों के एक विशेष समूह के लक्षण को "नियोप्लास्टिक सिन्ड्रोम" बुलाया जाता है, जिसमें कैंसर के साथ सोडियम असंतुलन और कभी कभी कोमा की स्‍ि‍थति भी होती है। 
  • इसी प्रकार अन्य लक्षणों में महिला सेक्स हार्मोन के असामान्य स्राव के कारण गायनिकोमेस्टिया का विकास, हड्डियों से कैल्शियम की हानि, आदि हार्मोन के असामान्य स्राव शामिल हो सकते हैं। 
  • अन्य प्रकार के लक्षण भी प्रकट हो सकते हैं यदि कैंसर मस्तिष्क, हड्डी या अन्य किसी स्थान पर फैल जाता है। कुछ विशेष प्रकार के फेफड़े के कैंसर में उंगलियों में असामान्य वृद्धि का लक्षण भी प्रकट हो सकता हैं जिसे क्लबिंग कहते हैं इसके अंतर्गत उंगलियों के वाह्य भाग कुछ उठे हुये प्रतीत होते हैं।




Read More Article on Adenocarcinoma Of the Lung in hindi.






Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES12434 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर