पैडिक्योर कई प्रकार का होता है जिनके जरिये आप संवार सकती हैं अपने पैरों की खूबसूरती

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 18, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • रेगुलर पैडीक्‍योर में विशेषज्ञ आपके पैरों को गुनगुने पानी में डालकर उसे प्‍यूमाइस स्‍टोन से स्‍क्रब करता है
  • स्‍पा पैडीक्‍योर में खास ब्‍यूटी ट्रीटमेंट किया जाता है, आमतौर पर पेराफिन वैक्‍स का इस्‍तेमाल किया जाता है
  • स्पेशल स्टोन्स और असेंशियल ऑयल का इस्‍तेमाल करते हुए पैरों और पिंडलियों की मसाज की जाती है
  • आपके पास पूरा पैडीक्‍योर करवाने का वक्‍त नहीं है, तो आप मिनी पैडीक्‍योर भी करवा सकते हैं।

पैडीक्‍योर से पैरों में रक्‍त-संचार बढ़ता है और इसमें इस्‍तेमाल होने वाले तेल से आपका सम्‍पूर्ण मूड दुरुस्‍त होता है। पैडीक्‍योर पैरों की खूबसूरती और सेहत बढ़ाने का एक बेहरतीन विकल्‍प है।

different types of pedicureएक प्रोफेशनल पैडीक्‍योर विशेषज्ञों द्वारा किया जाता है। स्‍पा और सैलून में होने वाले इस ब्‍यूटी ट्रीटमेंट के जरिये आपके पैरों की खूबसूरती और सेहत बढ़ाने का काम किया जाता है। इसके साथ ही यह पिंडलियों और एड़ि‍यों की मांसपेशियों में मौजूद तनाव को दूर करने में भी मदद करता है।

अगर आपने कभी किसी विशेषज्ञ की मदद से पै‍डी‍क्‍योर नहीं करवाया है, आपको यह जानकर हैरानी होगी कि पैडीक्‍योर कई प्रकार के होते हैं। इनमें से अपनी पसंद और जरूरत के हिसाब से पैडीक्‍योर चुन सकते हैं। आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही पैडीक्‍योर विकल्‍पों के बारे में-

रेगुलर पैडीक्‍योर

एक सामान्‍य पैडीक्‍योर पैरों और नाखूनों की देखभाल के प्रति सीधा रवैया अपनाता है। इसमें विशेषज्ञ आपके पैरों को गुनगुने पानी में डालकर उसे प्‍यूमाइस स्‍टोन से स्‍क्रब करेगा। इससे वह आपके पैरों और नाखूनों पर जमा मिट्टी व गंदगी को हटाएगा। साथ ही इससे पैरों की मृत त्‍वचा भी इससे हट जाती है। पैरों के साफ और नरम हो जाने के बाद वह आपके नाखूनों को सही आकार देगा। इसके बाद पैरों पर माश्‍चराइजर लगाएगा। आप चाहें तो अपनी पसंद की नेल पॉलिश भी लगवा सकती हैं।

स्‍पा पैडिक्‍योर

स्‍पा पैडिक्‍योर काफी हद तक सामान्‍य पैडिक्‍योर तक ही होता है। लेकिन, इसमें आपकी त्‍वचा का खास ट्रीटमेंट भी किया जाता है। इस स्‍पेशल ट्रीटमेंट में आमतौर पर पेराफिन वैक्‍स का इस्‍तेमाल किया जाता है। इसके साथ ही सॉल्‍ट स्‍क्रब और डीप क्‍लींजिंग माक्‍स आदि से भी पैरों की खूबसूरती बढ़ाने का काम किया जाता है। इससे पैरों में समाई अशुद्धियां बाहर आती हैं और उसके पोर भी साफ हो जाते हैं।

फ्रेंच पैडीक्‍योर

फ्रेंच पैडीक्‍योर का सीधा संबंध आपके नाखूनों को पॉलिश किए जाने के तरीके से होता है। इसमें आपके नाखूनों पर अलग प्रकार से पॉलिश की जाती है। इसके साथ ही सामान्‍य पैडीक्‍योर के चरणों का ही पालन किया जाता है। पैरों को सुखाने, स्‍क्रब करने और नाखूनों को शेप देने के बाद विशेषज्ञ आपके पैरों के नाखूनों को फ्रेंच मैनीक्‍योर के स्‍टाइल में पॉलिश करता है। अगर आप इस तकनीक से वाकिफ नहीं हैं, तो आपको बता दें कि फ्रेंच मैनीक्‍योर में नाखूनों पर रंगहीन अथवा हल्‍के गुलाबी रंग का बेस बनाया जाता है और फिर उस पर सफेद टिप लगायी जाती है। यह तकनीक विशेषकर महिलाओं में काफी चर्चित है।

मिनी पैडीक्‍योर

आपके पास पूरा पैडीक्‍योर करवाने का वक्‍त नहीं है, तो आप मिनी पैडीक्‍योर भी करवा सकते हैं। इस ट्रीटमेंट के दौरान विशेषज्ञ आपके पैरों को जल्‍दी सुखाकर आपके नाखूनों को शेप देगा। कम बजट में खूबसूरत पैर पाने का यह अच्‍छा तरीका है। जिनके पैरों का रख रखाव अच्छा है वे इस पेडीक्योर को चुन सकते हैं।

पैराफिन पेडीक्योर

पैराफिन मोम का प्रयोग पैरों को माइश्चराईज़ करने के लिये किया जाता है जो खासतौर से एजिंग त्वचा के लिये बढ़ाया है। एक रेगुलर पेडीक्योर जिसमें पैराफिन मोम से ट्रीटमेंट भी शामिल किया जाता है।

स्टोन पेडीक्योर

स्पेशल स्टोन्स जिनमें हीट होती है इनका प्रयोग एसेंशियल ऑयल्स की एक वैरायटी से कोई ऑयल चुनकर उपयोग करते हुए पैरों की मसाज के लिये किया जाता है।

 


अनेक हाई-एंड सैलोन एक्सक्लूसिव पेडीक्योर को ऑफर करते हैं जिसमें खास चीजें जैसे चॉकलेट, वाईन, गोल्ड डस्ट और यहां तक कि कैवियर भी शामिल होता है!

 


Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES22 Votes 17056 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर