डिप्रेशन है तो समझिए जन्म के समय वजन कम था

By  ,  दैनिक जागरण
Dec 29, 2010
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

-अमेरिकी शोधार्थियों ने दी विशेष ध्यान देने की सलाह

 

न्यूयार्क, रायटर : अगर लड़कियां डिप्रेशन की शिकार हैं तो संभव है जन्म के समय उनका वजन 2.5 किलो से कम रहा होगा। यह जानकारी एक अमेरिकी अध्ययन में हुई है। इसमें बताया गया है कि जन्म के समय जिन कन्याओं का वजन 2.5 किलो(5.5 पौंड) से कम होता है वे लड़कों की तुलना में ज्यादा डिप्रेशन की शिकार होती हैं। शोधार्थियों ने सलाह दी है कि जन्म के समय जिन लड़कियों का वजन 2.5 किलो से कम रहा हो, उन्हें अपने मानसिक स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

 

अध्ययन में शामिल ड्यूक विश्वविद्यालय की डा. एलिजाबेथ जेन कास्टेलो ने बताया कि हमने 1420 लड़के-लड़कियों पर शोध किया। इनकी उम्र नौ से 16 साल के बीच थी। हालांकि, इतने लड़के-लड़कियों में महज 5.7 फीसदी कन्याएं ऐसी मिलीं जिनका वजन जन्म के समय 2.5 किलो से कम था। मगर इनमें से 38 फीसदी को 13 से 16 साल की उम्र में डिप्रेशन की शिकायत हुई थी। कास्टेलो ने कहा कि इन लड़कियों में डिप्रेशन का कारण जन्म के समय कम वजन था जबकि लड़कों में ऐसे संकेत नहीं मिले। कुछ लड़कों में डिप्रेशन की शिकायत मिली, लेकिन इसका कारण कुछ और था। यह अध्ययन आर्काइव्स आफ जनरल साइकियाट्री में छपा है।

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES3 Votes 11557 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर