जॉगिंग से मोटापा कम करें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 11, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • मोटापे के शिकार हैं तब तो चिंतित होने की जरूरत है।
  • क्योंकि इस बीमारी का इलाज खुद के चाहने पर ही होगा।
  • निकले हुए पेट को कम करने का बेस्ट उपाय- जॉगिंग।
  • साथ ही जॉगिंग से आत्मविश्वास भी बढ़ता है।

पेट अगर निकला है मतलब या तो आप मोटापे के शिकार हैं या कुपोषण से पीड़ित हैं। कुपोषण की बीमारी है तो तुरंत जाएं डॉक्टर के पास और इलाज करवाएं। इसके विपरीत अगर मोटापे के शिकार हैं तब तो चिंतित होने की जरूरत है। क्योंकि कुपोषण का तो इलाज हो जाए लेकिन मोटापे का इलाज तो तब तक नहीं हो सकता जब तक आप खुद नहीं चाहते। तो इससे पहले देर हो जाए औऱ निकला हुआ पेट और अधिक निकल जाए उससे पहले ही इसे कम कर ऐब्स बना ले।

Jogging

 


गोल पेट को आकर्षक कमर में बदलने के लिए सबसे पहले जरूरत है कि ज्यादा से ज्यादा शारीरिक मेहनत की जाए। इसके लिए पहले दिन से ही व्यायाम करने की शुरुआत कर दें। पेट कम करने के लिए जॉगिंग सबसे सही व्यायाम है। इसमें कम समय में काफी ऊर्जा बर्न होती है और ये आपको अंदर से भी चुस्त-दुरुस्त रखता है। वैसे भी कहा भी गया है कि कोई भी व्यायाम शुरू करने से पहले जरूरी है कि जॉगिंग की जाए। इससे कमर सही आकार में रहता है औऱ शरीर फिट रहता है। 

अगर सुबह उठकर डेढ़ किलोमीटर जॉगिंग करते हैं तो आप उस एक घंटे में कई गुना कैलोरी बर्न कर लेते हैं जितना की आप जॉगिंग से पहले पूरे दिन में भी नहीं कर पाते थे। जॉगिंग से मशल्स भी टोन हो जाते हैं और ब्लड सर्कुलेशन सही रहने पर चेहरे पर चमक आती है। जॉगिंग के अन्य फायदे भी हैं- 

  • जॉगिंग शरीर में ब्लड सर्कुलेशन और ऑक्सीजन की पंपिंग सही रखता है जिससे दिल की बीमारियों से संबंधित खतरा कम हो जाता है।
  • जॉगिंग से मनोदशा में सकरात्मक बदलाव आते हैं और दिमाग हमेशा खुश रहता है।
  • साथ ही जॉगिंग से आत्मविश्वास भी बढ़ता है।
  • जॉगिंग से भूख बढ़ती है और आप अच्छा खाना खाने के लिए प्रेरित होते हैं।
  • इससे शरीर की मांसपेशियों में कसाव पैदा होता है और वो मजबूत बनते हैं। 
  • जॉगिंग से शरीर शारीरिक तौर पर थकता है जिससे अनिद्रा जैसी समस्याएं दूर होती है औऱ अच्छी नींद आती है।
  • जॉगिंग मेटाबॉलिज्म को तेज करता है जिससे अपच, कब्ज, एसिडिटी की समस्या दूर होती है।
  • डिप्रेशन और चिड़चिड़ापन कम होता है।
  • जॉगिंग का सबसे ज्यादा फायदा हड्डियों को होता है। इससे आस्टियोपोरोसिस का खतरा कम होता है और हड्डियां मजबूत बनती हैं।
  • जॉगिंग से शऱीर में लटक आती है। लचीलापन बढ़ने से चोट की आशंका कम हो जाती है।

Read More Articles On- Diet nutrition in hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES50 Votes 23381 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर