एंकायलूजि़ग स्‍पांडेलाइटिस की चिकित्सा

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 04, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

ankylosing spondylitis se chikitsa

एंकायलूजि़ग स्‍पांडेलाइटिस गठिया का ही एक भाग है। यह समस्या ज्यादातर पीठ के निचले हिस्से में होती है। जानिए इससे निजात पाने के लिए चिकित्सा के कौन से लिए तरीके अपनाएं जा सकते हैं।

 

दवाएं

एंकायलूजि़ग स्‍पांडेलाइटिस की चिकित्सा में कई दवाएं प्रभावी हो सकती हैं। दर्दनिवारक दवाओं मरीज के दर्द को ठीक करने में मददगार साबित हो सकती हैं। लेकिन कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

 

[इसे भी पढ़ें: एंकायलूजि़ग स्‍पांडेलाइटिस क्या है]

दैनिक प्रबंधन उपचार

दैनिक प्रबंधन उपचार में आमतौर पर शारीरिक थेरेपी और व्यायाम शामिल है। एक भौतिक चिकित्सक आपके लिए एक नियमित व्यायाम रख लेगा है जिसमे शामिल होगा रेंज की गति और शारीर को खींचने वाला व्यायाम जिससे रीढ़ को लचीला होने में मदद मिलेगी। पेट और पीठ के व्यायाम आपको अच्छी मुद्रा बनाए रखने में मदद कर सकते हैं जिससे गिरने की संभावना कम हो जाती है। तैराकी एक विशेष रूप से अच्छा व्यायाम है, क्योंकि यह करने के लिए कठोर, दर्दनाक क्षेत्रों को चलाना पानी में आसान हो सकता है।  मोटरसाइकिल चलाना भी एंकायलूजि़ग स्‍पांडेलाइटिस लोगों के लिए एक अच्छा व्यायाम हो सकता है। किसी भी गतिविधि में अपनी पीठ पर बहुत अधिक दबाव डालने से बचें।  उदाहरण के लिए, टहलना के कारण पीठ दर्द बदतर हो सकता हैं क्योंकि टहलना स्पाइनल जोड़ों पर अधिक दबाव डालता है।

 

[इसे भी पढ़ें: एंकायलूजिग स्पांडेलाइटिस के लक्षण]

 
गर्म स्नान

गर्म स्नान, गर्मी और मालिश दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है।  आप एक फॉर्म के गद्दे पर अपनी पीठ के बल से लगाओ और सो जाओ, एक छोटा सा तकिया या बिना कुछ उपयोग किये। क्योंकि एंकायलूजि़ग स्‍पांडेलाइटिस रिब केज की हड्डियों को प्रभावित कर सकता है, आपके फेफड़ों की क्षमता सीमित हो सकता है।  सांस लेने वाली व्यायाम फेफड़ों की क्षमता बनाए रखने में मदद कर सकता हैं । यदि आप धूम्रपान करते है ,तो आपकी प्राथमिकता इसको छोड़ने के लिए होनी चाहिए । सबसे अच्छे  इलाज के साथ भी, कुछ लोगो में रीढ़ का विकास अभी भी होता है , लेकिन ज्यादातर लोग अपना कार्य कर सकते हैं । कुछ बिंदु पर, एक वापस ब्रेस या अन्य उपकरण , जैसे कोर्सेट, बेंत या संयुक्त स्प्लिन्ट्स, मदद कर सकते है।  अगर अन्य अंग शामिल हैं जैसे दिल या आंख  आपको एक विशेषज्ञ को दिखाना पड़ेगा , और अतिरिक्त उपचार और निगरानी की जरूरत होती  है ।  उदाहरण के लिए, एनकीलूसीनग स्पॉन्डिलाइटिस के साथ एक व्यक्ति को एक पेसमेकर की जरूरत होती है अगर उसके दिल को प्रभावित करती है A

 
सर्जरी

सर्जरी की जरूरत तब होती है जब रोग तंत्रिका ने रीढ़ में नुकसान पहुंचाया हो या यदि जोड़ो में गंभीर नुकसान हुआ हो।

 

Read More Articles On Ankylosing spondylitis In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES31 Votes 13417 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर